9 सितम्बर 2017 करेण्ट अफेयर्स

Site Administrator

Editorial Team

09 Sep, 2017

1448 Times Read.

कर्रेंट अफेयर्स,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Read this in: English

1) भारतीय सशस्त्र सेनाओं में लैंगिक बाधाओं को तोड़ने की दिशा में एक अहम कदम भारतीय सेना (Indian Army) ने 8 सितम्बर 2017 को उठाया जब उसने 800 महिलाओं को सेना के एक ऐसे बल में शामिल करने को मंजूरी दी जिसमें अभी तक महिलाओं को शामिल नहीं किया जाता था। यह बल कौन सा है? – मिलिट्री पुलिस (Military Police)

विस्तार: भारतीय सेना ने महिलाओं को मिलिट्री पुलिस (Military Police) में शामिल करने का एहम निर्णय 8 सितम्बर 2017 को लिया। इस बल में प्रारंभ में कुल 800 महिला जवानों को शामिल किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि वर्ष 1992 से भारतीय सेना में महिलाओं को शामिल तो किया गया है लेकिन उनको मुख्यत: प्रशासनिक तथा लॉजिस्टिकल कार्यों में ही काम करने का मौका दिया गया है। इसके अलावा सेना की मेडिकल सेवाओं में महिलाएं काफी समय से भूमिका निभा रही हैं।

अब मिलिट्री पुलिस में शामिल करने के निर्णय से महिलाओं को लड़ाकू भूमिकाओं में शामिल किए जाने की संभावनाएं भी बढ़ गई हैं। सेना ने यह निर्णय ऐसे समय में लिया है जब एक ही दिन पूर्व 7 सितम्बर 2017 को निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने देश की पहली पूर्ण-कालिक महिला रक्षा मंत्री का कार्यभार ग्रहण किया।

………………………………………………………………………

2) पाकिस्तान का निजी क्षेत्र का वह सबसे बड़ा बैंक (Pakistan’s largest private bank) कौन सा है आतंकवादी संगठनों को वित्त पोषण के आरोप में जिसके न्यूयॉर्क (New York) स्थित कार्यालय को बंद करने का आदेश अमेरिका के बैंकिंग क्षेत्र की नियामक संस्था ने 7 सितम्बर 2017 को दिया? – हबीब बैंक लिमिटेड (Habib Bank Limited)

विस्तार: हबीब बैंक लिमिटेड (Habib Bank Limited) पाकिस्तान में निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक है। 1978 से अमेरिका में अपना परिचालन कर रहे इस बैंक के न्यूयॉर्क स्थित कार्यालय को बंद करने का आदेश अमेरिका के डिपार्टमेण्ट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज़ (DFS) ने 7 सितम्बर 2017 को जारी किया। इसके अलावा बैंक पर 22.5 करोड़ डॉलर ($225 million) का अर्थदण्ड भी लगाया गया।

डिपार्टमेण्ट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज़ अमेरिका में बैंकिंग क्षेत्र की नियामक संस्था है तथा उसने हबीब बैंक पर यह कड़ा आदेश आतंकवादी संगठनों को वित्त-पोषण करने तथा काले धन को सफेद करने के आरोप में जारी किया। बैंक को इस सम्बन्ध में कई बार आगाह किया गया था लेकिन उसने कोई सुधारात्मक उपाय नहीं उठाया।

नियामकों के अनुसार हबीब बैंक ने सऊदी अरब (Saudi Arabia) के निजी बैंक अल राझी बैंक (Al Rajhi Bank) के साथ अरबों डॉलर का लेन-देन किया था तथा इस बैंक के कथित तौर पर इस्लामिक आतंकी संगठन अल-कायदा (al-Qaeda) से सम्बन्ध हैं। यह जानकारी हबीब बैंक के अधिकारियों से वर्ष 2006 में साझा किए जाने के बावजूद बैंक ने इसे रोकने का कोई प्रयास नहीं किया।

………………………………………………………………………

3) हाल ही में प्रकाशित एक अकादमिक शोध (academic research) में निकाले गए निष्कर्ष के अनुसार तटीय क्षरण (coastal erosion) के चलते लक्षद्वीप द्वीपसमूह (Lakshadweep Archipelago) के कौन से छोटे से निर्जन द्वीप का अस्तित्व पूरी तरह से समाप्त हो चुका है? – पराली प्रथम (Parali I)

विस्तार: लक्षद्वीप में ही रहने वाले आर.एम. हिदायतुल्लाह (R.M. Hidayathulla) के हाल में प्रकाशित पीएचडी शोध में यह निष्कर्ष निकाला गया है कि द्वीपसमूह के पराली प्रथम (Parali I) द्वीप का अस्तित्व तटीय क्षरण के चलते पूरी तरह से समाप्त हो गया है। इस निर्जन द्वीप पर कोई नहीं रहता था तथा यह बंगाराम एटॉल (Bangaram atoll) का हिस्सा है।

“Studies on Coastal Erosion in Selected Uninhabited Islands of Lakshadweep Archipelago with Special Reference to Biodiversity Conservation” शीर्षक वाले इस शोध में उल्लेख किया गया है कि पराली प्रथम द्वीप का विस्तार वर्ष 1968 तक 0.032 वर्ग किलोमीटर था। लेकिन इस क्षेत्र में हो रहे तीव्र तटीय क्षरण के कारण यह द्वीप पूरी तरह से क्षरित होकर समुद्र में डूब गया है। शोध में यह भी कहा गया है कि लक्षद्वीप के चार और द्वीप समाप्त होने की कगार पर हैं।

आर.एम. हिदायतुल्लाह के उक्त शोध को जुलाई 2017 में ही केरल के कालीकट विश्वविद्यालय ने पीएचडी की उपाधि प्रदान की है। शोध के गाइड सी.सी. हीरालाल ने जानकारी दी कि पराली प्रथम के धीरे-धीरे डूबने को उन्होंने पहली बार वर्ष 2011 में देखा था जब वे बंगाराम एटॉल के दौरे पर गए थे।

………………………………………………………………………

4) केन्द्रीय खेल मंत्रालय ने 8 सितम्बर 2017 को किसे भारतीय राष्ट्रीय पुरुष हॉकी टीम (Indian national men’s hockey team) का नया मुख्य कोच (Chief Coach) नियुक्त कर दिया? – जोएर्ड मरीने (Sjoerd Marijne)

विस्तार: एक आश्चर्यजनक फैसले में नीदरलैण्ड्स के जोएर्ड मरीने (Sjoerd Marijne), जोकि महिला हॉकी टीम के मुख्य कोच हैं, को खेल मंत्रालय ने 8 सितम्बर 2017 को पुरुष राष्ट्रीय टीम का अगला मुख्य कोच (Chief Coach) नियुक्त कर दिया। उनकी इस पद पर नियुक्ति को इसलिए आश्चर्जनक माना जा रहा है क्योंकि उन्हें पुरुष सीनियर टीम को कोचिंग प्रदान करने का कोई पूर्व अनुभव नहीं है।

वे अपने देश के ही रोलेंट ऑल्टमैन्स (Roelant Oltmans) का स्थान लेंगे, जिन्हें पिछले कुछ समय से भारतीय पुरुष टीम के बेहद साधारण प्रदर्शन के चलते 2 सितम्बर 2017 को मुख्य कोच पद से हटा दिया गया था।

वहीं जूनियर हॉकी विश्व कप जीतने वाली टीम के कोच हरेन्द्र सिंह (Harendra Singh) को महिला हॉकी टीम का हाई परफॉर्मेंस विशेषज्ञ कोच (High Performance Specialist coach) नियुक्त किया गया। यह दोनों नियुक्तियाँ वर्ष 2020 के टोक्यो ऑलम्पिक्स तक के लिए की गई हैं। इन नियुक्तियों की घोषणा हाल ही में केन्द्रीय खेल मंत्री बनाए गए राज्यवर्द्धन सिंह राठौर ने 8 सितम्बर 2017 को अपने आधिकारिक ट्विटर हैण्डल के माध्यम से की।

उल्लेखनीय है कि हॉकी इण्डिया (HI) ने भारतीय पुरुष टीम के मुख्य कोच पद के लिए तीन दिन पूर्व ही एक विज्ञापन अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित किया था तथा इसमें इस पद के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 सितम्बर 2017 रखी गई थी। लेकिन इस विज्ञापन को 7 सितम्बर 2017 को वेबसाइट से हटा दिया गया था।

………………………………………………………………………

5) 7 सितम्बर 2017 को किसे प्रेस ट्रस्ट ऑफ इण्डिया (PTI) का नया अध्यक्ष (Chairman) चुना गया? – विवेक गोयनका (Viveck Goenka)

विस्तार: एक्सप्रेस समूह (Express Group) के अध्यक्ष तथा प्रबन्ध निदेशक विवेक गोयनका Viveck Goenka) को भारत की प्रमुख समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इण्डिया (Press Trust of India – PTI) का नया अध्यक्ष (Chairman) चुना गया है। वहीं अंग्रेजी समाचार-पत्र “द हिन्दू” के पूर्व सम्पादक एन. रवि (N. Ravi) को संस्था का अगला उपाध्यक्ष (Vice-Chairman) चुना गया। 7 सितम्बर 2017 को पीटीआई की 69वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) में यह दोनों निर्वाचन सर्वसम्मति से किए गए।

विवेक गोयनका, जोकि अभी तक पीटीआई के उपाध्यक्ष थे, अध्यक्ष पद पर अब तक आसीन रियाद मैथ्यू (Riyad Mathew) का स्थान लेंगे जो मलयाला मनोरमा प्रकाशन समूह से जुड़े हैं। उल्लेखनीय है कि विवेक 90 के दशक के मध्य से एक्सप्रेस समूह की कमान थामे हुए हैं। इस समूह के कुछ प्रमुख प्रकाशन हैं – “द इण्डियन एक्सप्रेस” (अंग्रेजी समाचार-पत्र), “द फाइनेंशियल एक्सप्रेस” (अंग्रेजी वित्तीय समाचार-पत्र), “लोकसत्ता” (मराठी समाचार-पत्र) और “जनसत्ता” (हिंदी समाचार-पत्र)।

………………………………………………………………………

| Current Affairs | Current Affairs 2017 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2017 समसामायिकी | 2017 करेण्ट अफेयर्स | सितम्बर 2017 |


Responses on This Article

© Nirdeshak. All rights reserved.