7-9 जनवरी 2017 करेण्ट अफेयर्स

Site Administrator

Editorial Team

09 Jan, 2017

2771 Times Read.

कर्रेंट अफेयर्स,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Read this in: English

1) 14वें प्रवासी भारतीय दिवस (14th Pravasi Bhartiya Divas) सम्मेलन का उद्घाटन 8 जनवरी 2017 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। विदेशों में रह रहे भारतीयों के महत्व को रेखांकित करने वाले इस वार्षिक सम्मेलन का यह नवीनतम आयोजन किस शहर में किया जा रहा है? – बेंगलूरू (Bengaluru)

विस्तार: प्रवासी भारतीयों के देश के विकास में योगदान करने से सम्बन्धित प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का 14वां संस्करण 8 जनवरी 2017 को धूमधाम से कर्नाटक की राजधानी बेंगलूरू (Bengaluru) में शुरू हुआ। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। इस दो-दिवसीय आयोजन का पहला एवेंट “युवा प्रवासी भारतीय दिवस” था जिसमें विदेशों में रह रहे भारतीय युवाओं के योगदान को रेखांकित किया जाता है।

पुर्तगाल (Portugal) के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा (Prime Minister Antonio Costa) 14वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के मुख्य अतिथि हैं तथा इस अवसर पर उन्हें पर्सन ऑफ इण्डियन ओरिजिन (PIO) का पहचान-पत्र जारी किया गया। उन्होंने गोवा (Goa) से अपने व्यक्तिगत सम्बन्धों का उल्लेख इस अवसर पर किया।

………………………………………………………………..

2) 14वें प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विदेश में रोजगार के लिए जाने वाले भारतीय युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए किस नई योजना की घोषणा की? – “प्रवासी कौशल विकास योजना” (‘Pravasi Kaushal Vikas Yojana’)

विस्तार: “प्रवासी कौशल विकास योजना” (‘Pravasi Kaushal Vikas Yojana’) उस नई योजना का नाम है जिसकी घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 जनवरी 2017 को बेंगलूरू में 14वें प्रवासी भारतीय दिवस समारोह के उद्घाटन के अवसर पर की। इस योजना का मुख्य उद्देश्य विदेशों में रोजगार के लिए अवसर तलाशने वाले युवाओं की कौशल क्षमता में संवर्द्धन करना है।

इस योजना के द्वारा भारतीय युवाओं के आत्मविश्वास के स्तर में वृद्धि कर उन्हें पूरे आत्मविश्वास से विदेशों में अपने लिए योग्य अवसरों की तलाश के लिए तैयार करना है।

………………………………………………………………..

3) हिंदी फिल्मों में कुछ अद्वितीय भूमिकाएं निभाने वाले सुप्रसिद्ध अभिनेता एवं नाट्यकर्मी ओम पुरी (Om Puri) का 6 जनवरी 2017 को तड़के अपने मुम्बई स्थित आवास में निधन हो गया। मुख्यत: अपने चरित्र अभिनय के लिए प्रसिद्धि पाने वाले इस अभिनेता ने कुल कितनी बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था? – दो बार

विस्तार: 66-वर्षीय ओम पुरी की गणना भारत के सर्वकालीन महान अभिनेताओं में की जाती है। हिंदी फिल्मों में अभिनय करने के अलावा उन्होंने कुछ अंग्रेजी और पाकिस्तानी फिल्मों में भी अभिनय किया था।

अपने शानदार कॅरियर के दौरान उन्होंने कुल दो बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था – 1982 में “आरोहण” के लिए तथा 1983 में “अर्द्ध-सत्य” के लिए। इसके अलावा उन्होंने वर्ष 1980 में फिल्म “आक्रोश” के लिए सर्वश्रेष्ठ सह-अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार जीता था। 1982 में आई रिचर्ड ऑटनब्रॉ की बहुचर्चित फिल्म “गांधी” (‘Gandhi’) में उनकी छोटी सी भूमिका को खूब वाह-वाही हासिल हुई थी।

ओम पुरी ने अपने कॅरियर की शुरूआत 1976 की मराठी फिल्म “घासीराम कोतवाल” से की थी। उनके जीवन की कुछ अन्य प्रमुख फिल्में थीं – “सदगति”, “मिर्च मसाला”, “जाने भी दो यारों”, “धारावी”, “माचिस”, “गुप्त”, “धूप”, “युवा”, “डॉन”, “अग्निपथ”, “बजरंगी भाईजान”, आदि। उन्होंने हॉलीवुड की कुछ फिल्मों में भी काम किया था जैसे – ‘City of Joy’, ‘Wolf’, ‘The Ghost’ और ‘The Darkness’।

उन्होंने 1973 में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (NSD) से प्रशिक्षण हासिल किया था तथा सुप्रसिद्ध अभिनेता नसीरुद्दीन शाह उनके ही बैच में थे।

………………………………………………………………..

4) सेबी (SEBI) ने देश में स्टार्ट-अप व्यवसायों (start-ups) को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ऐसे व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करने वाले एंजेल निवेशकों (angel investors) की निवेश-सम्बन्धी शर्तों में कुछ रियायत प्रदान करने की घोषणा 4 जनवरी 2017 को की। इन घोषणाओं के अनुसार किसी एक स्टार्ट-अप योजना में अब कितने एंजेल निवेशक निवेश कर सकते हैं? – 200 

विस्तार: भारत में स्टार्ट-अप व्यवसायों की वित्त-पोषण को मजबूती प्रदान करने के उद्देश्य भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) ने 4 जनवरी 2017 को एजेंल फण्ड्स (angel funds) द्वारा इन व्यवसायों में निवेश की शर्तों में तमाम रियायतों की घोषणा कर दी। इसके तहत अब अधिकतम 200 एंजेल निवेशक किसी स्टार्ट-अप योजना में निवेश कर सकते हैं। यह सीमा अभी तक 49 थी। वहीं अब यह निवेशक 5 वर्ष पुराने स्टार्ट-अप उपक्रमों में निवेश कर सकेंगे। अभी तक 3 वर्ष तक के उपक्रमों में निवेश करने का नियम था।

इसके अलावा जोखिम को विविधिकृत करने के एंजेल फण्ड्स को अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेण्ट फण्ड्स (Alternative Investment Funds – AIFs) की भांति अपने कुल निवेश कॉर्पस का 25% तक विदेशों में निवेश करने की अनुमति भी SEBI ने प्रदान कर दी है।

………………………………………………………………..

5) केन्द्रीय खेल मंत्रालय ने सुरेश कलमाडी और अभय चौटाला द्वारा स्वयं को खेल संघों के आजीवन अध्यक्ष बनाए जाने के प्रकरण के चलते भारतीय ऑलम्पिक संघ (IOA) को अस्थायी रूप से निलंबित करने के बाद देश में खेल संघों के ढांचों में सुधार लाने के उद्देश्य से एक समिति का गठन जनवरी 2017 के दौरान किया। इस समिति की अध्यक्षता किसे सौंपी गई है? – आई. श्रीनिवास (खेल सचिव)

विस्तार: तमाम घोटालों में लिप्त रहे सुरेश कलमाडी (Suresh Kalmadi) और अभय चौटाला (Abhay Chautala) को भारतीय ऑलम्पिक संघ (Indian Olympic Association – IOA) द्वारा आजीवन अध्यक्ष बनाए जाने जैसी घटना को भविष्य में होने से रोकने के उद्देश्य से केन्द्रीय खेल मंत्री विजय गोयल (Vijay Goel) ने 2 जनवरी 2017 को राष्ट्रीय खेल संहिता (National Sports Code) में सुधार के लिए सिफारिश करने के लिए एक समिति का गठन किया।

इस समिति की अध्यक्षता खेल सचिव (Sports Secretary) इंजेती श्रीनिवास (Injeti Srinivas) को सौंपी गई है। यह समिति खेल मंत्रालय द्वारा इस संदर्भ में सभी सम्बन्धित पक्षों की कराई गई बैठक में राष्ट्रीय खेल संहिता में सुधार लाने के बारे में दिए गए सुझावों को ध्यान में रखकर अपनी सिफारिशी रिपोर्ट तैयार करेगी। समिति द्वारा अपनी रिपोर्ट एक माह में दिए जाने की संभावना है।

………………………………………………………………..

6) जनवरी 2017 के दौरान की गई घोषणा के अनुसार कौन सा उपक्रम पहला प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम (PSU) बनने जा रहा है जिसको रणनीतिक विनिवेश (strategic disinvestment) प्रक्रिया के द्वारा बेचा जायेगा? – भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (BEML)

विस्तार: 5 जनवरी 2017 को स्टॉक एक्सचेंजों को प्रदान की गई सूचना के अनुसार केन्द्र सरकार भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (Bharat Earth Movers Limited – BEML) में अपनी 26% हिस्सेदारी को बेचकर इस उपक्रम से अपना स्वामित्व समाप्त कर देगी। इसी के साथ यह देश का पहला प्रमुख उपक्रम बनेगा जिसे रणनीतिक विनिवेश (strategic disinvestment) प्रक्रिया के द्वारा बेचा जायेगा। इस विनिवेश को केन्द्र सरकार को लगभग 1,000 करोड़ रुपए हासिल होने का अनुमान है।

इस रणनीतिक विनिवेश के बाद BEML में केन्द्र सरकार की हिस्सेदारी वर्तमान 54.03% से घटकर 28.03% रह जायेगी तथा इस उपक्रम से केन्द्र सरकार का नियंत्रण समाप्त हो जायेगा।

उल्लेखनीय है कि यह पिछले 12 वर्षों में रणनीतिक विनिवेश के द्बारा किसी सार्वजनिक उपक्रम को बेचने का मात्र तीसरा मौका होगा। सितम्बर 2016 में केन्द्र सरकार ने भारत पम्पस एण्ड कम्प्रेसर्स लिमिटेड (Bharat Pumps and Compressors Ltd.) तथा दिसम्बर 2016 में भारत की पहली फार्मा कम्पनी बंगाल केमिकल्स एण्ड फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड (Bengal Chemicals and Pharmaceuticals Ltd.) और हिन्दुस्तान एण्टीबॉयोटिक्स लिमिटेड (Hindustan Antibiotics Ltd.) को बेचने का निर्णय लिया था। लेकिन किसी प्रमुख सार्वजनिक उपक्रम को रणनीतिक विनिवेश से बेचने का यह पहला ही मौका होगा।

इन सार्वजनिक उपक्रमों का निजीकरण वर्ष 2003-04 में तत्कालीन अटल बिहारी वाजपेयी सरकार द्वारा जेसॉप एण्ड कम्पनी (Jessop and Co.) के बाद इस क्षेत्र के उपक्रमों को बेचने की पहला प्रकरण भी है।

उल्लेखनीय है कि BEML की स्थापना मई 1964 में की गई थी। यह उपक्रम प्रतिरक्षा क्षेत्र के लिए तमाम उपकरणों व वाहनों के निर्माण में संलग्न है।

………………………………………………………………..

7) पुर्तगाल (Portugal) के पूर्व राष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री रहे उस नेता का क्या नाम है जिन्हें अपने देश में “लोकतंत्र के पिता” (‘Father of Democracy’) के नाम से जाना जाता था तथा जिसका निधन 7 जनवरी 2017 को हो गया? – मारियो सोरेज़ (Mario Soares)

विस्तार: पुर्तगाल में लोकतंत्र को लाने में प्रमुख भूमिका निभाने वाले देश के पूर्व राष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री मारियो सोरेज़ (Mario Soares) का निधन 92 वर्ष की आयु में 7 जनवरी 2017 को राजधानी लिस्बन (Lisbon) के एक अस्पताल में हो गया।

उन्होंने 1974 की “कार्नेशन क्रांति” (Carnation Revolution) के बाद देश में लोकतंत्र को मजबूत करने में मुख्य भूमिका निभाई थी। उक्त क्रांति ने तानाशाह एंटोनियो सालाज़ार (António Salazar) की 48 वर्ष लम्बी सत्ता का अंत कर दिया था जिसमें से सालाज़ार ने स्वयं लगभग 36 वर्ष शासन किया था। बाद में मारियो सोरेज़ दो बार देश के प्रधानमंत्री (Prime Minister) रहे जबकि इसके बाद 1986 से लेकर 1996 तक उन्होंने देश के राष्ट्रपति (President) की भूमिका संभाली थी।

इसके बाद भी सोरेज़ ने देश की राजनीति में अपना योगदान जारी रखा तथा पुर्तगाल के यूरोपीय संघ (European Union) में प्रवेश का मार्ग प्रशस्त किया। हालांकि बाद में वे पुर्तगाल की अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए 2011 के यूरोपीय संघ के “बेल-आउट पैकेज” के मुखर विरोधी होकर भी उभरे थे।

………………………………………………………………..

8) 4 जनवरी 2017 को दिवंगत होने वाले अब्दुल हलीम जाफर खान (Abdul Halim Jaffer Khan) किस वाद्ययंत्र से जुड़े सुप्रसिद्ध शास्त्रीय संगीतज्ञ थे? – सितार (Sitar)

विस्तार: अब्दुल हलीम जाफर खान का नाम अपने समय के सर्वप्रमुख सितार वादकों में शामिल था। वे उस “सितार त्रयी” (‘Sitar Trinity’) अथवा “सितार तिकड़ी” में से एक थे जिसके दो अन्य सितारवादक पण्डित रविशंकर (Pt. Ravi Shankar) तथा उस्ताद विलायत खान (Ustad Vilayat Khan) थे। खान साहब का निधन 88 वर्ष की आयु में मुम्बई स्थित अपने आवास में 4 जनवरी 2017 को हो गया।

उनका जन्म मध्य प्रदेश के जावरा (Jawra) में हुआ था तथा उनका जुड़ाव “इन्दौर घराने” से था। उन्हें सितार वादन की एक विशिष्ट शैली “जफरखानी बाज़” विकसित करने का श्रेय प्रदान किया जाता है। एकल सितार वादन के अलावा उन्हें अपने 6 दशक लम्बे दौर में तमाम प्रमुख फिल्मों में सितार बजाने का मौका भी मिला था। इनमें से कुछ प्रमुख फिल्में थीं – “मुगले-आज़म”, “कोहीनूर”, “गूँज उठी शहनाई” और “झनक झनक पायल बाजे”।

उन्हें पद्मश्री, पद्म भूषण तथा संगीत नाटक सम्मानों से सम्मानित किया गया था।

………………………………………………………………..

9) कौन सा देश दुनिया का पहला देश बनने जा रहा है जो एफएम रेडियो (FM Radio) नेटवर्क को पूरी तरह से बंद कर डिज़िटल रेडियो प्रसारण (digital radio broadcasting) तकनीक को अपना लेगा? – नॉर्वे (Norway)

विस्तार: यूरोपीय देश नॉर्वे (Norway) दुनिया का पहला देश बनने जा रहा है जो एफएम रेडियो प्रसारण को बंद कर रेडियो प्रसारण के लिए पूर्णतया डिज़िटल प्रसारण तकनीक को अपना लेगा। यह प्रक्रिया 11 जनवरी 2017 को तब शुरू हो जायेगी जब देश के एक उत्तरी शहर बोडो (Bodoe) में एफएम रेडियो प्रसारण को बंद कर दिया जायेगा।

इस वर्ष के अंत तक पूरे नॉर्वे में FM रेडियो प्रसारण बंद कर दिया जायेगा तथा इसके स्थान पर डिज़िटल ऑडियो ब्रॉडकास्टिंग (Digital Audio Broadcasting – DAB) तकनीक को अपना लिया जायेगा जो अधिक बेहतर आवाज़ उपलब्ध कराने में सक्षम है।

उल्लेखनीय है कि FM रेडियो प्रणाली को बंद करने का निर्णय नॉर्वे की संसद ने वर्ष 2011 में लिया था। इस निर्णय के पक्ष में सरकार ने तर्क दिया था कि मात्र 50 लाख की जनसंख्या वाले देश में रेडियो के लिए दोनों प्रकार की पद्धतियों – FM रेडियो प्रसारण तथा डिज़िटल ऑडियो ब्रॉडकास्टिंग (DAB) को रखना कतई तर्कसंगत नहीं है।

सरकार ने अनुमान लगाया था कि एफएम रेडियो नेटवर्क का संचालन डिज़िटल रेडियो प्रसारण के मुकाबले लगभग आठ गुना महंगा पड़ता है तथा इस खर्च को बचाकर रेडियो प्रसारण के कंटेंट को बेहतर करने का प्रयास किया जा सकता है।

………………………………………………………………..

10) किसने 8 जनवरी 2017 को सम्पन्न चेन्नई ओपन (Chennai Open 2017) टेनिस टूर्नामेण्ट का पुरुष एकल खिताब जीता? – रॉबर्ट बॉतिस्ता ऑगट (Roberto Bautista Agut)

विस्तार: स्पेन (Spain) के अनुभवी खिलाड़ी रॉबर्ट बॉतिस्ता ऑगट (Roberto Bautista Agut) ने रूस (Russia) के 20-वर्षीय डानिल मेडवडेव (Daniil Medvedev) को 8 जनवरी 2017 को फाइनल में हरा कर वर्ष 2017 का चेन्नई ओपन पुरुष एकल खिताब जीत लिया। ऑगट ने फाइनल में सीधे सेटों में 6-3, 6-3 से जीत हासिल कर सत्र का अपना पहला ATP खिताब हासिल किया।

उल्लेखनीय है कि मेडवडेव जहाँ अपने करियर का पहला ATP खिताब जीतने की कोशिश कर रहे थे वहीं ऑगट इससे पूर्व चार एकल ATP खिताब जीत चुके हैं।

चेन्नई ओपन को वर्ष के पहले टेनिस ग्राण्ड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) की तैयारियों का बेहतर मंच माना जाता है।

………………………………………………………………..

| Current Affairs | Current Affairs 2017 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2017 समसामायिकी | 2017 करेण्ट अफेयर्स | जनवरी 2017 |


Responses on This Article

© Nirdeshak. All rights reserved.