6 सितम्बर 2017 करेण्ट अफेयर्स

Site Administrator

Editorial Team

06 Sep, 2017

778 Times Read.

कर्रेंट अफेयर्स,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Read this in: English

1) किस बैंकिंग उपक्रम को आरबीआई (RBI) ने 4 सितम्बर 2017 को देश की अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण बैंक (“Domestic-Systemically Important Bank” – D-SIB) घोषित किया जिससे यह बैंक इस श्रेणी में शामिल किया जाने वाला देश का तीसरा बैंक बन गया? – एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank)

विस्तार: भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा (RBI) 4 सितम्बर 2017 को की गई घोषणा के अनुसार एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) देश की अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण बैंकों की श्रेणी का बैंक (“Domestic-Systemically Important Bank” – D-SIB) बन गया है। इस प्रकार यह इस श्रेणी में लाया जाने वाला देश का तीसरा बैंक बन गया है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) इस श्रेणी के अन्य दो बैंक हैं। इस श्रेणी के बैंक को “टू-बिग-टू-फेल” (“Too-Big-to-Fail”) के अनौपचारिक नाम से भी जाना जाता है।

आरबीआई प्रत्येक वर्ष श्रेणी के बैंकों की घोषणा करता है। वर्ष 2015 में जारी इस श्रेणी में भारतीय स्टेट बैंक और आईसीआईसीआई बैंक को शामिल किया गया था।

D-SIB श्रेणी का अर्थ होता है कि ऐसे बैंकिंग उपक्रम के असफल से देश की पूरी वित्तीय प्रणाली प्रभावित होगी तथा अर्थव्यवस्था पर भारी चोट लगेगी। इसलिए इस श्रेणी के बैंकों को टियर-1 इक्विटी में लगातार अधिक परिसम्पत्तियाँ (progressively higher share of risk-weighted assets) रखने की व्यवस्था की गई है। परिसम्पत्तियों की मात्रा बैंक की कोर पूँजी की मात्रा पर निर्भर करती है। एचडीएफसी बैंक के मामले में उसे 1 अप्रैल 2018 से अतिरिक्त परिसम्पत्तियों की व्यवस्था करनी होगी।

………………………………………………………………..

2) 5 सितम्बर 2017 को किस शहर की मेट्रो रेल प्रणाली का उद्घाटन किया गया जिससे यह शहर मेट्रो रेल संचालन सुविधा वाला देश का नौंवा शहर बन गया? – लखनऊ (Lucknow)

विस्तार: लखनऊ देश के मेट्रो रेल प्रणाली नक्शे पर तब शामिल हो गया जब 5 सितम्बर 2017 को केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और राज्य के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Lucknow Metro Rail Corporation – LMRC) के पहले चरण पर चलने वाली मेट्रो रेल को झण्डी दिखा कर रवाना किया।

LMRC की पहले चरण की इस मेट्रो सेवा की कुल लम्बाई 8.5 किलोमीटर है तथा इसमें ट्रांसपोर्ट नगर (Transport Nagar) को चारबाग (Charbagh) से जोड़ा गया है। इस पर रोजाना प्रात: 6 बजे से रात 10 बजे के बीच मेट्रो ट्रेनों का संचालन किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने दिसम्बर 2016 में इसी चरण पर परीक्षण ट्रेन (trial train) का उद्घाटन किया है। अब इस चरण पर काम पूरा हो चुका है तथा 6 सितम्बर 2017 से यह आम जनता के लिए खोल दिया जायेगा।

भारत में मेट्रो रेल प्रणाली की सुविधा वाले अन्य आठ शहर हैं – कोलकाता, दिल्ली, बेंगलूरू, गुड़गाँव, मुम्बई, जयपुर, चेन्नई और कोच्चि।

………………………………………………………………..

3) सितम्बर 2017 के दौरान ब्रिक्स अंतर-बैंक सहयोग प्रणाली (BRICS ICM) के 5 सदस्य बैंकों ने स्थानीय मुद्रा में ऋण प्रदान करने तथा क्रेडिट रेटिंग्स पर परस्पर सहयोग करने के लिए एक समझौता हस्ताक्षरित किया। ब्रिक्स की ICM में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाला बैंकिंग उपक्रम कौन सा है? – एक्ज़िम बैंक ऑफ इण्डिया (EXIM Bank of India)

विस्तार: उल्लेखनीय है कि ब्रिक्स अंतर-बैंक सहयोग प्रणाली (BRICS Interbank Cooperation Mechanism (BRICS ICM) में ब्रिक्स के 5 सदस्य देशों का प्रतिनिधित्व कर रहे 5 बैंकिंग उपक्रम हैं – एक्सिम बैंक ऑफ इण्डिया (भारत), Banco Nacional de Desenvolvimento Economico e Social (ब्राज़ील), चाइना डेवलपमेण्ट बैंक (चीन), डेवलपमेण्ट बैंक ऑफ साउथ अफ्रीका (दक्षिण अफ्रीका) और Vnesheconombank (रूस)।

ब्रिक्स देशों के वर्ष 2017 के शिखर सम्मेलन के पूर्व 2 सितम्बर 2017 को इन 5 बैंकिंग उपक्रमों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (CEOs) ने स्थानीय मुद्रा में ऋण प्रदान करने (establish local currency credit lines) तथा क्रेडिट रेटिंग्स (credit ratings) पर परस्पर सहयोग करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

उल्लेखनीय है कि स्थानीय मुद्राओं का प्रयोग वित्त पोषण सम्बन्धित गतिविधियों में करने से आर्थिक सहयोग को बढ़ाने में मदद मिलेगी, ऋण जोखिमों को कम किया जा सकेगा, व्यापार में वृद्धि की जा सकेगी तथा अन्य ब्रिक्स देशों के बाजारों तक पहुँचने में कम्पनियों को आसानी होगी।

………………………………………………………………..

4) सितम्बर 2017 के दौरान किस विदेशी बैंक (foreign bank) को पूर्ण स्वामित्व वाले सहयोगी उपक्रम (wholly owned subsidiary – WOS) के माध्यम से भारत में बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) की स्वीकृति हासिल हुई है जिससे वह यह स्वीकृति हासिल करने वाला दूसरा विदेशी बैंक बन गया है? – डीबीएस बैंक लिमिटेड (DBS Bank Limited)

विस्तार: सिंगापुर (Singapore) में मुख्यालय वाले डीबीएस बैंक लिमिटेड (DBS Bank Limited) ने 4 सितम्बर 2017 को घोषणा की कि उसे पूर्ण स्वामित्व वाले सहयोगी उपक्रम (wholly owned subsidiary – WOS) के माध्यम से भारत में बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक की स्वीकृति मिल गई है। इस प्रकार डीबीएस ऐसी स्वीकृति हासिल करने वाला दूसरा विदेशी बैंक बन गया है।

पूर्ण स्वामित्व वाली सहयोगी कम्पनी के माध्यम से भारत में बैंकिंग सेवाएं शुरू करने से सम्बन्धित स्वीकृति हासिल करने वाला पहला विदेशी बैंक स्टेट बैंक ऑफ मॉरीशस (State Bank of Mauritius) है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय रिज़र्व बैंक चाहता है कि विदेशी बैंक भारत में अपनी सेवाएं पूर्ण स्वामित्व वाले उपक्रम के माध्यम से प्रदान करे। इससे ऐसे विदेशी बैंकों की मातृ-कम्पनियों के समक्ष आ रही वित्तीय दुश्वारियों की छाया उनके भारतीय व्यवसाय पर नहीं पड़ेगी तथा इससे इनका नियमन (regulation) भी अधिक प्रभावी बनाया जा सकेगा। इस सम्बन्ध में आरबीआई ने नवम्बर 2013 में विदेशी बैंकों के पूर्ण स्वामित्व वाले सहयोगी उपक्रमों से जुड़े नियम जारी किए थे।

………………………………………………………………..

5) भारतीय मूल के उस एक्ज़ीक्यूटिव का क्या नाम है जिसे यूरोप की सबसे बड़ी फार्मा कम्पनी नोवार्टिस (Novartis) का अगला मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त किया गया? – वसंत नरसिम्हन (Vasant Narasimhan)

विस्तार: 41-वर्षीय वसंत नरसिम्हन (Vasant Narasimhan), जोकि हार्वर्ड में शिक्षित भारतीय मूल के एक डॉक्टर हैं, को दिग्गज फार्मा उत्पादक कम्पनी नोवार्टिस फार्मा एजी (Novartis Pharma AG) ने अपना अगला मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त कर दिया। वे वर्तमान में इस कम्पनी में मुख्य मेडिकल अधिकारी (CMO) तथा औषधि विकास (drug development) के वैश्विक प्रमुख (global head) हैं।

नोवार्टिस ने यह घोषणा 5 सितम्बर 2017 को की तथा इसके साथ यह सूचना भी दी कि पिछले आठ वर्षों से इस पद पर तैनात जोसेफ जिमेनेज़ (Joseph Jimenez) 1 फरवरी 2018 को यह पद छोड़ देंगे जिसके बाद वसंत यह पद संभाल लेंगे।

उल्लेखनीय है कि नोवार्टिस यूरोप की सबसे बड़ी दवा कम्पनी है जबकि दुनिया की सबसे बड़ी दवा कम्पनी में भी इसका शुमार है। कम्पनी का मुख्यालय स्विटज़रलैण्ड (Switzerland) के बेसल (Basel) में है। वर्ष 2016 में कम्पनी का कुल राजस्व 48 अरब डॉलर से अधिक था।

………………………………………………………………..

| Current Affairs | Current Affairs 2017 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2017 समसामायिकी | 2017 करेण्ट अफेयर्स | सितम्बर 2017 |

 


Responses on This Article

© Nirdeshak. All rights reserved.