11-12 फरवरी 2018 करेण्ट अफेयर्स

Site Administrator

Editorial Team

12 Feb, 2018

594 Times Read.

कर्रेंट अफेयर्स,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Read this in: English

1) ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (OVL) और उसके सहयोगियों ने आबू धाबी स्थित एक बड़े अपतटीय तेल-कुएं में (large offshore oilfield) 60 करोड़ डॉलर से 10% हिस्सेदरी खरीदने के लिए एक समझौता किया। इस सौदे की सबसे बड़ी विशेषता क्या है? – यह पहला मौका है जब किसी भारतीय कम्पनी ने तेल के मामले में समृद्ध संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में किसी तेल कुएँ में हिस्सेदारी हासिल की है

विस्तार: ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (ONGC Videsh Ltd – OVL) , जोकि ओएनजीसी (ONGC) का विदेश व्यापार उपक्रम है, ने इण्डियन ऑयल (IOC) और भारत पेट्रोलियम लिमिटेड (BPCL) की इकाइयों के साथ 11 फरवरी 2018 को आबू धाबी के अपतटीय तेल कुएँ लोअर ज़ाकुम कन्शेसन में 10% हिस्सेदारी 60 करोड़ डॉलर (US$600 million) में खरीदने के लिए आबू धाबी नेशनल ऑयल कम्पनी (Abu Dhabi National Oil Co. (ADNOC) के साथ एक समझौता किया।

इस समझौते का महत्व यह है कि इसके साथ पहली बार कोई भारतीय उपक्रम संयुक्त अरब अमीरात (UAE) स्थित किसी तेल कुएँ में हिस्सेदारी खरीदने जा रहा है। यह 40-वर्षीय समझौता 9 मार्च 2018 से प्रभाव में आ जायेगा। इस समझौते पर ओएनजीसी समूह के अध्यक्ष शशि शंकर और समूह के प्रमुख सुल्तान अहमद अल जब्बार ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और आबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन-ज़ायेद अल-नह्यान की मौजूदगी में हस्ताक्षर किए।

……………………………………………………………………..

2) न्यू वर्ल्ड वेल्थ (New World Wealth) द्वारा फरवरी 2018 में जारी दुनिया के 15 सबसे धनी शहरों की नवीनतम रिपोर्ट में शामिल एकमात्र भारतीय शहर कौन सा है? – मुम्बई (Mumbai)

विस्तार: 950 अरब डॉलर ($950 billion) की कुल सम्पत्ति के साथ भारतीय की वित्तीय राजधानी मुम्बई (Mumbai) को न्यू वर्ल्ड वेल्थ द्वारा फरवरी 2018 में जारी नवीनतम रिपोर्ट में दुनिया के 15 सबसे धनी शहरों की सूची में 12वें स्थान पर शामिल किया गया है। इस सूची में कुल 3 लाख करोड़ डॉलर की सम्पत्ति के साथ अमेरिका का शहर न्यूयॉर्क (New York) पहले स्थान पर है। उल्लेखनीय है कि यहाँ कुल सम्पत्ति से तात्पर्य शहर के समस्त नागरिकों की कुल व्यक्तिगत परिसम्पत्ति से है जिसमें निजी लोगों की परिसमपत्तियों का मूल्य, नकद, इक्विटी निवेश, व्यावसायिक हिस्सेदारी, आदि की गणना की जाती है।

इस रिपोर्ट के अनुसार मुम्बई में कुल 28 अरबपति हैं (जिनकी न्यूनतम सम्पत्ति एक अरब डॉलर अथवा उससे अधिक है)। मुम्बई में ही दुनिया का 12वाँ सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज बीएसई (BSE) है तथा यह शहर वित्तीय सेवाओं, रियल एस्टेट और मीडिया व्यवसाय का गढ़ बनकर उभरा है।

इस सूची में न्यूयॉर्क के बाद क्रमश: लंदन (2.7 लाख करोड़ डॉलर), टोक्यो (2.5 लाख करोड़ डॉलर), सैन फ्रांसिस्को बे क्षेत्र (2.3 लाख करोड़ डॉलर), बीजिंग (2.2 लाख करोड़ डॉलर), शंघाई (2.0 लाख करोड़ डॉलर), लॉस एंजेल्स (1.4 लाख करोड़ डॉलर), हांग कांग (1.3 लाख करोड़ डॉलर), सिडनी (1 लाख करोड़ डॉलर), सिंगापुर (1 लाख करोड़ डॉलर) और शिकागो (988 अरब डॉलर) को स्थान दिया गया है।

वहीं भारत के बाद सर्वोच्च 15 शहरों में टोरंटो (944 अरब डॉलर), फ्रैंकफर्ट (912 अरब डॉलर) और पेरिस (860 अरब डॉलर) का स्थान है।

……………………………………………………………………..

3) फलस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास (President Mahmoud Abbas) ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को फलस्तीन का कौन सा सर्वोच्च पुरस्कार 10 फरवरी 2018 को प्रदान किया? – “ग्राण्ड कॉलर ऑफ द स्टेट ऑफ द फलस्तीन” (“Grand Collar of the State of Palestine”)

विस्तार: भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) को फलस्तीन का सर्वोच्च नागरिक सम्मान “ग्राण्ड कॉलर ऑफ द स्टेट ऑफ द फलस्तीन” 10 फरवरी 2018 को फलस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने प्रदान किया। यह पुरस्कार प्रधानमंत्री की फलस्तीन यात्रा के दौरान रामल्लाह (Ramallah) में हुई द्विपक्षीय बैठक की समाप्ति पर उन्हें प्रदान किया गया। भारत-फलस्तीन सम्बन्धों को मजबूत करने में उनके योगदान के लिए प्रधानमंत्री मोदी को यह पुरस्कार प्रदान किया गया।

उल्लेखनीय है कि यह पुरस्कार विदेशी सम्राटों, राष्ट्राध्यक्षों तथा समान पदाधिकारियों को प्रदान किया जाता है। पूर्व में यह प्रतिष्ठित पुरस्कार हासिल कर चुकीं कुछ प्रमुख हस्तियाँ हैं – सऊदी अरब के किंग सलमान, बहरीन के किंग हमद, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, आदि।

……………………………………………………………………..

4) 11 फरवरी 2018 को दिवंगत हुई अस्मा जहाँगीर (Asma Jahangir) किस क्षेत्र से जुड़ी पाकिस्तान की सुप्रसिद्ध हस्ती थी? – मानवाधिकार (Human rights)

विस्तार: अस्मा जहाँगीर (Asma Jahangir) पाकिस्तान की सुप्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता तथा लोकतंत्र समर्थक थीं। उनका 66 वर्ष की आयु में 11 फरवरी 2018 को निधन हो गया। उन्होंने अपने समस्त जीवन में पाकिस्तान में मानवाधिकारों और महिला अधिकारों के समर्थन में लड़ाई लड़ी थी तथा इस कार्य में उनकी बहन हिना जिलानी (Hina Jilani) ने भी उनका भरपूर साथ दिया था।

वे पेश से वकील थीं तथा 30 वर्ष की आयु में उन्होंने पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय में काम करना शुरू कर दिया था। बाद में वे देश के सैन्य शासन के खिलाफ एक मुखर आवाज़ के तौर पर सामने आईं। उन्हें पहले वर्ष 1983 में उनकी गतिविधियों के लिए गिरफ्तार किया गया था। वहीं वर्ष 2007 में देश के सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को सैन्य सत्ता द्वारा पद से हटाए जाने के बाद उनके विरोध के चलते उन्हें नज़रबंद कर दिया गया था।

वे पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग की सह-संस्थापक थीं और उन्होंने अपने देश में पहली नि:शुल्क कानूनी सलाह केन्द्र की स्थापना की थी। उन्हें यूनेस्को/बिलाबाओ और फ्रांस का लिज़ों डि ऑनर (Legion of Honour) समेत कई प्रमुख पुरस्कार मिले थे। वर्ष 2005 के शांति के नोबेल पुरस्कार के लिए भी उन्हें नामित किया गया था।

……………………………………………………………………..

5) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 11 फरवरी 2018 को आबू धाबी के पहले हिंदू मंदिर (the first Hindu temple in Abu Dhabi) के निर्माण के कार्य का उद्घाटन किया। इस मंदिर का निर्माण कौन सी संस्था करेगी? – बोचासन्वासी अक्षर पुरुषोत्तम संस्था (BAPS)

विस्तार: हिंदू धर्म के स्वामीनारायण संप्रदाय (Swaminarayan community) से जुड़ी शीर्ष संस्था बोचासन्वासी अक्षर पुरुषोत्तम संस्था (Bochasanwasi Akshar Purushottam Sanstha – BAPS) आबी धाबी में एक भव्य स्वामीनारयण मंदिर का निर्माण करेगी जोकि इस क्षेत्र का पहला हिंदू मंदिर होगा। यह मंदिर गांधीनगर और नई दिल्ली स्थित अक्षरधाम मंदिर की तर्ज पर बनाया जायेगा।

इस भव्य मंदिर के निर्माण कार्य का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 11 फरवरी 2018 को दुबई ओपेरा हाउस से वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा किया।

……………………………………………………………………..

| Current Affairs | Current Affairs 2018 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking , Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2018 समसामायिकी | 2018 करेण्ट अफेयर्स | फरवरी 2018 |


Responses on This Article

© Nirdeshak. All rights reserved.